घटना से संबंधित कुछ महत्त्वपूर्ण सुराग प्राप्त हुए है,जिनके आधार पर घटना के खुलासे के लिए दिशा निर्देश दिये गये व 11 टीमो का गठन किया गया

Date:

Share post:

पुलिस महानिदेशक द्वारा नानकमत्ता क्षेत्र में हुए हत्याकांड के घटनास्थल का किया गया स्थलीय निरीक्षण

थाना नानकमत्ता में जनपद के अधिकारियों के साथ गोष्ठी की गई गोष्ठी के माध्यम से महोदय द्वारा आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर मामले का खुलासा करने हेतु डीजीपी अभिनव कुमार ने सख्त दिशा निर्देश दिए

पुलिस महानिदेशक द्वारा जिले के सभी अधिकारियों के साथ गोष्ठी कर घटना के त्वरित खुलासे हेतु दिए गए सख्त दिशा निर्देश..

पुलिस महानिदेशक ने घटना स्थल का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सभी एंगल से घटना स्थल का मौका मुआयना किया गया

 

पुलिस महानिदेशक द्वारा घटना के खुलासे हेतु किया गया है 11 टीमों का गठन

घटना से संबंधित कुछ महत्त्वपूर्ण सुराग प्राप्त हुए है,जिनके आधार पर घटना के खुलासे के लिए दिशा निर्देश दिये गये व 11 टीमो का गठन किया गया

दिनांक 28-03-2024 को कन्ट्रोल रूप से समय लगभग प्रातः06:20 बजे सूचना प्राप्त हुई कि डेरा कार सेवा प्रमुख को अज्ञात बन्दूकधारी ने गोली मार दी है,जिस पर पुलिस टीम द्वारा मौका मुआयना किया गया तो जानकारी प्राप्त हुई कि डेरा कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह प्रातः डेरे के बरामदा में कुर्सी में बैठे थे कि एक मोटर साइकिल पर दो अज्ञात व्यक्ति आये जिनमें से पीछे बैठे व्यक्ति द्वारा 315 बोर की रायफल से बाबा तरसेम सिंह पर दो फायर करे और मौके से मोटर साइकिल में फरार हो गये ।गोली लगने से बाबा तरसेम सिंह वहीं मौके पर घायल होकर गिर गये,जिनको उनके सेवादारों द्वारा उपचार हेतु तुरन्त पंचरतन अस्पताल, नानकमत्ता ले जाया गया ,जहाँ ड़ाक्टर द्वारा उनकी गम्भीर स्थिति को देखते हुए उन्हें हायर सेन्टर रेफर किया गया । जिस पर सेवादारो द्वारा बाबा को स्वास्तिक अस्पताल, खटीमा ले जाया गया । जिनकी वहां उपचार के दौरान मृत्यु हो गयी । घटना की सूचना मिलने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद उधमसिंह नगर, पुलिस अधीक्षक नगर रूद्रपुर, क्षेत्राधिकारी खटीमा महोदय, क्षेत्राधिकारी सितारगंज महोदय,व जनपद के अलग-अलग थानो के थानाध्यक्ष/प्रभारी निरीक्षक, फील्ड यूनिट, विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम,एसओजी टीम,एसटीएफ टीम, एलआईयू निरीक्षक आदि मौके पर पहुँचे। घटना से संबंधित कुछ महत्त्वपूर्ण सुराग प्राप्त हुए है,जिनके आधार पर श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा घटना के खुलासे के लिए दिशा निर्देश दिये गये व 11 टीमो का गठन किया गया ।

जिनमे से प्रत्येक टीम को अलग-अलग कार्य आवटित किये गये । जिनमे से तीन टीमें गैर-राज्य भेजी गई हैं। पुलिस उपमहानिरीक्षक, कुमांयू परिक्षेत्र महोदय द्वारा भी घटनास्थल व अन्य महत्वपूर्ण स्थलों का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये हैं।

*इसी क्रम में आज दिनाँक 29/03/2024 को अभिनव कुमार, पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड महोदय द्वारा घटना स्थल का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान महोदय द्वारा सभी एंगल से घटना स्थल का मौका मुआयना किया गया। महोदय द्वारा घटना के वक्त डेरे में मौजूद कार सेवकों से घटना की जानकारी प्राप्त की गई व उनको सांत्वना दी गई। इसके बाद महोदय द्वारा थाना नानकमत्ता में जनपद के अधिकारियों के साथ गोष्ठी की गई। गोष्ठी के माध्यम से महोदय द्वारा आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर मामले का खुलासा करने हेतु सख्त दिशा निर्देश दिए।*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

इस बार कैंची धाम में बेहतर रही व्यवस्था : मुख्यमंत्री धामी

कार्यों को उलझाने के बजाए सुलझाने की प्रवृत्ति रखें अधिकारी :धामी मुख्यमंत्री धामी ने कहा हमारी सरकार सरलीकरण-समाधान और...

मुख्यमंत्री द्वारा यह भी निर्देश दिये गये कि जिला प्रशासन द्वारा दुर्घटना में प्रभावित व्यक्तियों को दुर्घटना राहत निधि से राहत की धनराशि भी...

बस हादसा: सीएम की अफसरों को दो टूक, दायित्व निर्वहन में शिथिलता पर होगी कड़ी कार्रवाई   मुख्यमंत्री के निर्देशों...

मानसून को देखते हुए 15 जून से पहले सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएं:धामी

आपदा मद में ₹13 करोड़ की दूसरी किश्त जारी मुख्यमंत्री धामी ने सभी डीएम को दिए समयबद्ध कार्य के...

चम्पावत में पर्यटन, कृषि और बागवानी, हेल्थकेयर, शिक्षा, दुग्ध व अन्य उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए विस्तृत कार्ययोजना पर कार्य किया जा रहा...

मुख्यमंत्री धामी ने जिला चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और गतिमान कार्यों...